News

क्या करें कि माँ लक्ष्मी आप के घर निवास करने लगे

आखिर सुख, समृद्धि और वैभव की देवी हैं माता लक्ष्मी. लक्ष्मी को चंचल स्वभाव का माना जाता है; एक जगह स्थिर मुश्किल से बैठती हैं. यदि उन्हें एक दूसरा स्थान मोहित कर लेता है, तो उधर चली जाती हैं. जिसके लिए आपको दो काम करने होंगे – एक ताकि वो आपके निवास स्थान में प्रवेश करें, और दूसरा कि जब वो आ जाएँ, तब आप उन्हें हर तरह से संतुष्ट रखें ताकि वो आपके घर में ही विराजमान रहें.

क्या करें कि लक्ष्मी माँ आपके घर में प्रवेश करें?

दोस्तों सबसे पहले आपकों अपने घर के प्रवेश द्वार पर विशेष ध्यान देना होगा, मतलब कि उसे जितना हो सके, स्वच्छ और सुंदर रखें. जैसे हम दीपाेत्सव यानी दीपावली के दिन अपने घर के द्वार को सजाते-संवारते हैं, आपको कुछ वैसा ही करना है.

प्रवेश द्वार पर सुंदर बंधनवार लगाएँ, हर शाम दीपक लगाए. एक सुंदर सी लाइट अपने द्वार पर लगाइए. प्रकाश और साफ-सफाई-सुंदरता लक्ष्मी माँ को आपके आशियाने की तरफ आकर्षित करेंगी.

आपने कई लोगों के घर के बाहर छोटे-छोटे पदचिन्ह बने हुए देखे होंगे. आप इसी प्रकार माता लक्ष्मी के पदचिन्ह अपने घर के बाहर अंकित करिए.

घर के भीतर के हिस्सों को भी नित्य दीपक या टी लाइट से रोशन करें।

दिये-मोमबत्तियों से विशेष लगाव है माता लक्ष्मी को। इसलिए केवल द्वार पर ही नहीं, घर के अंदर भी नित्य दीपक, टी लाइट या मोमबत्ती से रोशनी करें। मंदिर या पूजा घर में तो आपको शाम के समय एक दीपक जलाना ही चाहिए.

पुष्प और रंगोली

पूजन वाले स्थान पर और घर के प्रवेश स्थल को या अपने घर के मंदिर के आसपास किसी क्षेत्र को गेंदे के फूलों से सजाएं. आप एक सुंदर सी रंगोली बना लें, तो बहुत अच्छा है. रंगोली के लिए फूल-पत्तियों, चावल और अन्य प्राकृतिक वस्तुओं का प्रयोग करें.

घर को स्वच्छ एवं व्यवस्थित रखें

माता लक्ष्मी को गंदगी सख्त रूप से नापसंद है. यदि अगर किसी का घर स्वच्छ न हो, तो माँ नाराज़ हो जाएंगी और वहाँ से रवाना होने में समय नहीं लगाएँगी. घर में दैनिक रूप से अच्छे से झाड़ा-पोंछा करें। बिस्तर पर बिछी बेडशीट को नियमित रूप से धोएँ और चेंज करें. पर्दों को भी समय-समय पर धोए. सीधे शब्दों में कहे तो घर में बेहतर साफ सफाई का ध्यान अवश्य रखें. किन्तु इतना ही काफी नहीं है। घर के सभी कमरों को व्यवस्थित रखें।

रजत लक्ष्मी

घर में लक्ष्मीजी और गणेशजी की चांदी की मूर्तियों को रखना शुभ माना जाता है, लेकिन यह जरूरी है कि इन मूर्तियों की आप नियमित रूप से पूजा-अर्चना करें.

आँगन में तुलसी

तुलसी पूजा से लक्ष्मीजी को विशेष प्रसन्नता मिलती है. इसके लिए घर के आँगन में या बाल्कनी में एक तुलसी का पौधा लगाएँ। तुलसी की दैनिक पूजा करें और यहाँ एक दीपक भी प्रज्ज्वलित करें.

दान-दक्षिणा करें

पौराणिक और धार्मिक मान्यता है कि धन की देवी को वो भक्त नहीं पसंद जो धन-वैभव केवल अपने लिए ही सोचते हैं और अपना पैसा जरूरतमन्द लोगों के साथ नहीं बांटते. इसके लिए आप अपनी इच्छानुसार और अपने सामर्थ अनुसार समय-समय पर दान दें, जरूरतमंद लोगों की सहायता करें.

इसे भी पढ़े :

Harshita Verma

हर्षिता वर्मा newsmug.in की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं. यह newsmug.in के लिए सेहत और धर्म से जुड़े विषयों पर लिखती हैं. यह न्यूज़मग.इन की SEO एक्सपर्ट हैं, इनके कठोर प्रयासों के कारण newsmug.in एक सफल हिंदी न्यूज़ वेबसाइट बनी हैं.

Recent Posts

इंश्योरेंस क्लेम कैसे करते है? Insurance Claim Process In Hindi

इंश्योरेंस क्लेम कैसे करते है? Insurance Claim Process In Hindi भविष्य में आने वाले जोखिम…

4 days ago

इनश्योरेंस (Insurance) कितने प्रकार के होते हैं? Insurance Ke Prakar In Hindi

इनश्योरेंस अर्थात बीमा, वित्तीय नियोजन की एक आधारशिला जिसमें आपकों, आपके आश्रितों और आपकी संपत्ति…

4 days ago

इंश्योरेंस (Insurance) क्या होता है? Insurance kya hota h in hindi

इंश्योरेंस, बीमा, जीवन बीमा आदि शब्द हम दैनिक दिनचर्या में अमूमन सुनते ही हैं. कारण…

4 days ago

सावन 2022 कब से शुरू है और कब खत्म है ( Sawan 2022 Start Date and End Date ) ( Sawan Kab se Lagega)

सावन 2022 कब से शुरू है और कब खत्म है ( Sawan 2022 Start Date…

6 days ago

खटमल मारने का सबसे आसान तरीका | Khatmal Marne Ke Upay

खटमल मारने का सबसे आसान तरीका | Khatmal Marne Ka sabse aasan tarika | खटमल…

6 days ago

Sawan Shivratri 2022 Date | सावन शिवरात्रि 2022 में कब है !

sawan shivratri 2022 date । Sawan Shivratri 2022 Date kab hai | सावन शिवरात्रि 2022…

6 days ago