City Update

नेता प्रतिपक्ष भागर्व के बदले तेवर, अभी नहीं है सरकार गिराने का विचार

where-is-the-idea-of-replacing-the-government-instead-of-the-leader-of-opposition-bhagwar

नेता प्रतिपक्ष भागर्व के बदले तेवर कहां अभी नहीं है सरकार गिराने का विचार Where is the idea of replacing the government instead of the leader of opposition Bhagrava ?

नागदा। मप्र शासन के पूर्व मंत्री व आगर विधायक मनोहर ऊंटवाल के आकस्मिक निधन के बाद हमेशा कांग्रेस सरकार गिराने की बात करने वाले नेता प्रतिपक्ष गोपाल भागर्व के तेवर नरम पढ़ गए। अब भागर्व यह कह रहे है कि अभी भाजपा का ध्यान एनआरसी, सीसीए में लगा हुआ है।

भागर्व शुक्रवार को ऊंटवाल के अंतिम संस्कार में से शामिल होकर शाम 4 बजे नागदा पहुंचे थे। यहां पर बायपास स्थित रांगोली होटल में कुछ देर विश्राम के बाद भागर्व भोपाल के लिए रवाना हो गए। इस दौरान भागर्व ने मीडिया से चर्चा कि। गौरतलब है कि प्रदेश में जबसे कमलनाथ की सरकार बनी है तब से यह बयान देते आए है कि यह सरकार कभी भी गिर जाएगी।

जिस दिन नं 1 व 2 का आदेश होगा उस दिन सत्ता परिवर्तन कर देगे। हालहि में रतलाम में एक कार्यक्रम में भागर्व ने कहा था कि प्रदेश सरकार के बारे में बहुत जल्द अच्छी खबर सुनने को मिलेगी।

शुक्रवार शाम को जब भागर्व से प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बारे में पुछा गया तो नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि वर्तमान में भाजपा पार्टी का ध्यान देश में चल रहे एनआरसी व सीसीए के विरोध में हो रहे प्रदर्शन पर है।

कांग्रेस के लोग देश के मुस्लिम समाज के लोगों को भ्रमित कर सीसीए का विरोध करवा रहे है। प्रदेश में नगर निकाय के चुनाव में भागर्व ने कहा कि कांग्रेस हमेशा से जनता से सिधा चुनाव लडऩे से डरती आई है, इसलिए इस बार नगर निकाय चुनाव में बदलाव किया है।

अब कांग्रेस पार्षद को खरीदकर तथा पैसे व शराब का वितरण कर नगरीय निकाय पर कब्जा जमाना चाहती है। कमलनाथ सरकार भू-माफियाओं की आड़ में गरीब लोगों के आशियाने तोड़ रही है। जबकि बड़े माफियाओं से जमकर रु लेकर उन पर कार्यवाही नहीं कर रही है।

यह विधानसभा का गणित

प्रदेश में वर्ष 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा को 109 व कांग्रेस को 114 सीट मिली थी। कांग्रेस ने निर्दलीय विधायक के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। लेकिन लोकसभा चुनाव में झाबुआ सीट खाली होने से वहां हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने जीत दर्ज कर अपनी संख्या 115 कर ली थी।

इधर भाजपा की संख्या 108 हो गई थी। लेकिन गत दिनों कांग्रेस विधायक बनवारी वर्मा का निधन होने से यह आंकड़ा पुन:114 हो गया था। लेकिन अब भाजपा विधायक ऊंटवाल के निधन से भी भाजपा की संख्या 107 हो गई।

यह भी पहुंचे नागदा

भागर्व के अलावा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, पूर्व सांसद कृष्णकुमार मौघे, डॉ चिंतामण मालवीय भी मौजूद थे। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह गुरुवार रात 2 बजे नागदा पहुंचे थे।

जबकि पूर्व मुख्यमंत्री चौहान व अन्य नेता शुक्रवार सुबह नागदा पहुंचे। यहां से नाश्ता करने के बाद समस्त नेता आलोट के लिए रवाना हो गए। वहां से शाम 4 बजे नेता प्रतिपक्ष भागर्व, प्रदेश अध्यक्ष सिंह नागदा पहुंचे।

where-is-the-idea-of-replacing-the-government-instead-of-the-leader-of-opposition-bhagwar

Comment here