Education

33 सालों से केवल चाय पीकर जिंदा है यह औरत

This woman is alive by drinking only tea for 33 years

दिनभर आप चाय पीते हैं, तो यह चाय लवर्स के लिए चैलेंज हैं. कोरिया जिले के बैकुंठपुर विकासखंड के बरदिया गांव में रहने वाली 44 साल की पल्ली देवी सिर्फ चाय पीती हैं. क्षेत्र में चाय वाली चाची के नाम से फेमस है.

मौजूदा जानकारी के अनुसार पल्ली देवी 33 साल से सिर्फ चाय पीकर हैं जिंदा है. अब इसे कुदरत की नेमत कहा जाए या कोई शारीरिक उपलब्धता. पल्ली देवी ने 11 वर्ष की आयु में एकाएक भोजन छोड़ दिया और सिर्फ चाय पीने लगी.

अन्न जल त्याग चाय पीने का सिलसिला 33 साल से जारी है. परिवार के लोगों की मानें तो पल्ली देवी ने 33 सालों से अन्न-जल को मुंह तक नहीं लगाया है. पल्ली के पिता रतिराम बताते हैं कि पल्ली जब कक्षा छठी में पढ़ती थी, उसी दौरान भोजन त्याग दिया.

चमत्कार तब हुआ जब पल्ली कोरिया जिले के जनकपुर में पटना स्कूल की ओर से जिलास्तरीय टूर्नामेंट खेलने गई थी. टूर्नामेंट से लौटने के बाद भोजन त्याग किया. शुरुआत में चाय के साथ बिस्किट और ब्रेड लिया. बाद में वह भी बंद कर दिया.

बरदिया गांव के पूर्व सरपंच बिहारी लाल राजवाड़े का तर्क है कि, साल 1994 में जब मैं सरपंच बना था, उसी दौरान से पल्ली को चाय पीते हुए देखता आ रहा हूं. ग्राम वाले पल्ली को आस्था की नजर से देखते हैं.

घर की आर्थिक स्थिति खराब हुई तो पल्ली ने केवल काली चाय पीने का प्रण ले लिया. मामले में कोरिया जिला अस्पताल के सर्जन डॉ. एस.के. गुप्ता का तर्क है कि, मेडिकल साइंस के मुताबिक ऐसा संभव नहीं है. पल्ली के समूचे शरीर की जांच करवाई जाना चाहिए.

This woman is alive by drinking only tea for 33 years
पल्ली

Comment here