General

सांड राजा की बैंडबाजे के साथ अंतिम यात्रा निकाली

The final trip of the bull king with Band Baje took off

सांड राजा की बैंडबाजे के साथ अंतिम यात्रा निकाली | The final trip of the bull king with Band Baje took off

नागदा. गांव डाबरी में सांड राजा की मृत्यु होने पर शुक्रवार को ग्रामीणों ने बैंडबाजे के साथ उसकी अंतिम यात्रा गांव में निकाली. ग्रामीण निलेश गुर्जर के 25 वर्षो से गांव में सांड राजा निवासरत थे, गोवर्धन पूजा के अवसर पर धूमधाम से पूजा की जाती थी.

सांड ने गांव के कभी किसी भी व्यक्ति पर हमला नहीं. जिसका मार्ग में जगह जगह सांफा चढ़ाकर पुष्पमाला ग्रामीणों ने पहनाई. गांव की सीमा में सांड राजा को समाधि दी गई.

13 दिन बाद गांव में घाटा मौसर का आयोजन होगा. अंतिम यात्रा में भैरूसिंह गुर्जर, बाबूलाल गुर्जर, निलेश गुर्जर, दिलीप गुर्जर, मांगूसिंह गुर्जर, हरिसिंह गुर्जर, नंदू गुर्जर, गुलाबसिंह, सुरेश सिंह, मनोहरसिंह गुर्जर सिमरोल सहित ग्रामीणजन मौजूद थे.

The final trip of the bull king with Band Baje took off

Comment here