शांति समिति की बैठक में लोगों को दी सख्त हिदायत, लेना होगी अनुमति

0
5

शांति समिति की बैठक में लोगों को दी सख्त हिदायत, लाउड स्पीकर लेना होगी अनुमति | Strict instruction given to people in peace committee meeting, permission to take loud speaker

नागदा। मुस्लिम समुदाय की अगुवाई में निकलने वाले ईद मिलादुन्नबी के जुलूस पर इस बार अयोध्या फैसले की तलवार लटकी हुई है। क्योंकि इस बार फैसले को लेकर पूरे प्रदेश में धारा 144 प्रभावी है। ऐसे में जुलूस धारा के दायरे में निकालना होगा। जिसके चलते जुलूस में हथियार प्रतिबंधित रहेंगें, वहीं लाउड स्पीकर सहित अन्य प्रोगाम की भी परमिशन लेना होगी।

उक्त बात शुक्रवार को मंडी थाना परिसर में शांति समिति की बैठक में एसडीएम आरपी वर्मा ने कहीं। यह बैठक 10 नवंबर को मुस्लिम समुदाय के निकलने वाले ईद मिलादुन्नी जुलूस को लेकर आयोजित की गई थी। जिसमें यह स्पष्ट किया गया कि इस बार जुलूस में कई प्रकार की सावधानियां बरतना होगी।

जिसको लेकर आयोजनकर्ता को प्रशासन ने सख्त हिदायत देते हुए कहा कि जुलूस में नियमों का पालन होना चाहिए, प्रशासन आपके साथ है। जुलूस की शुरुआत सुबह 8 बजे कोटा फाटक से होगी। जिसमें शहर सहित आसपास के ग्रामीण के लोगों शामिल होने की संभावना भी समाजजनों ने जाहिर की है।

जुलूस प्रमुख मार्गों से होता हुआ चंबल मार्ग स्थित ईदगाह पर पहुंचकर समाप्त होगा। बैठक में सीएसपी मनोज रत्नाकर, नायब तहसीलदार सलोनी पटवा, शाहिद मिर्जा, टीआइ श्यामचंद्र शर्मा सहित बड़ी संख्या में गणमान्यजन मौजूद थे।

#आम नागरिकों के बीच पहुंचकर पुलिस-प्रशासन कर रहा जनसंवाद

अयोध्या फैसले को लेकर पुलिस प्रशासन किस तरह अलर्ट है। इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पुलिस के आला अफसर आधी रात को आमजन के बीच पहुंचकर फैसले को लेकर जनसंवाद कर रहे हंै। आमजन ने भी उन्हें शहर की शांति व्यवस्था बनाए रखने का भरोसा दिलाया है।

उसके बावजूद भी पुलिस प्रशासन अपनी तैयारी में किसी प्रकार की कोई कसर नहीं छोड़ रहा। गुरुवार की देर रात पुलिस प्रशासन ने शहर के पाड्ल्या रोड एवं जामा मस्जिद रोड पर पहुंचकर लोगों से जनसंवाद किया। इस दौरान आमजन ने पुलिस प्रशासन को भरोसा दिलाया कि फैसला जो भी आए शहर की फिजा बिगडऩे नहीं देंगे।

इस मौके पर एडिशनल एसपी अंतरसिंह कनेश, सीएसपी मनोज रत्नाकर, टीआइ श्यामचंद्र शर्मा मौजूद थे। शुक्रवार को भी पुलिस ने शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में पहुंचकर लोगों के बीच जनसंवाद किया।

strict-instruction-given-to-people-in-peace-committee-meeting-permission-to-take-loud-speaker

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here