Education

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष : दिव्यांगता को कोसा नहीं, जिदंगी के पहलुओं को समझ खोल दी लेडिस कॉसमेटिक सामग्री की दुकान

Special on International Women's Day:

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष : दिव्यांगता को कोसा नहीं, जिदंगी के पहलुओं को समझ खोल दी लेडिस कॉसमेटिक सामग्री की दुकान Special on International Women’s Day: Disability is not cursed, Ladis opened up understanding of aspects of life

दिव्यांगता एक श्राप है. दिव्यांग जिंदगी को संघर्ष समझते है, लेकिन हम एक ऐसी दिव्यांग युवती से परिचय करवा रहे है. जिन्होंने दिव्यांगता को श्राप मानने की बजाए. जिंदगी को संर्घषशील तरीके से जीते हुए खुद के पैरों पर खड़ी हुई है.

हम बात कर रहे नागदा निवासी ममता चावंड की, नगर पालिका के सहयोग से लोन लिया. और सब्जी मंडी में खोल दी लेडिस कॉस्मेटिक दुकान. प्रतिमाह होने वाली आय से स्वयं का खर्च चलाती है. परिवार में माता, पिता और बड़ा भाई है. शैक्षणिक योग्यता एमकॉम है. युवति के हौसलें को सलाम करते हुए स्थानीय विधायक दिलीपसिंह गुर्जर द्वारा सम्मान किया जा चुका है.

ममता की लगन देख नगर सरकार द्वारा राष्ट्रीय शहरी योजना मिशन के अंतर्गत ब्यूटी पार्लर का कोर्स प्रशिक्षण दिलवाया गया है.

Special on International Women's Day:

Comment here