हिंदी दिवस कोट्स | Hindi Diwas Quotes in Hindi

0
53

हिंदी दिवस पर बेहतरीन सुविचार | Quotes on Hindi Diwas 2019| Quotes on Hindi Subject | Quotes on Importance of Hindi Language | Hindi Diwas Poem

राज भाषा का दर्जा प्राप्त हिंदी भारत में सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है. हिंदी को जन-जन की भाषा का दर्जा प्राप्त है. विविध संस्कृतियों को अपने अंदर समेटे हुए हिंदी का इतिहास एक हजार साल से भी पुराना है. आधुनिक काल अर्थात साल 1850 के बाद से सबसे अधिक उपयोग होने वाली भाषा हिंदी है. देश के सभी शासकीय कार्यालयों में होने वाले पत्र व्यवहार में हिंदी भाषा का ही प्रयोग किया जाता है. किसी भी प्रकार के प्रशासनिक नोटिस में भी मातृ भाषा हिंदी में लिखा जाता है. आजादी के बाद 14 सिंतबर 1949 को संविधान सभा द्वारा यह निर्णय लिया गया कि हिंदी देश की राजभाषा के रुप में जानी जाएगी. जिसके चलते प्रतिवर्ष 14 सितंबर को भारत में हिंदी दिवस के रुप में मनाया जाता है.

Hindi diwas Thoughts

जिस देश को अपनी भाषा और साहित्य का गौरव का अनुभव नहीं है, वह उन्नत नहीं हो सकता। – डॉ. राजेंद्र प्रसाद

हिन्दी एक जानदार भाषा है; वह जितनी बढ़ेगी देश को उतना ही लाभ होगा। – जवाहरलाल नेहरू

सभी भारतीय भाषाओं के लिए यदि कोई एक लिपी आवश्यक है तो वो देवनागरी ही हो सकती है। – जस्टिस कृष्णस्वामी अय्यर

हिंदी हमारे राष्ट्र की अभिव्यक्ति का सरलतम स्त्रोता है। – समित्रानंदन पंत

‘यद्यपि मैं उन लोगों में से हूँ, जो चाहते हैं और जिनका विचार है कि हिंदी ही भारत की राष्ट्रभाषा हो सकती है’। – लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक

हिन्दी को राष्ट्रभाषा बनाना भाषा का प्रश्न नहीं अपितु देशाभिमान का प्रश्न है। – एन. निजलिंगप्पा

हिन्दी उन सभी गुणों से अलंकृत है, जिनके बल पर वह विश्व की साहित्यिक भाषा की अगली श्रेणी में समासीन हो सकती है। – मैथिलीशरण गुप्त

Hindi day Thought in Hindi

राष्ट्रीय व्यवहार में हिन्दी को काम में लाना देश की उन्नति के लिए आवश्यक है। – महात्मा गांधी

जब तक इस देश का राजकाज अपनी भाषा (हिन्दी) में नहीं चलता तब तक हम यह नहीं कह सकते कि इस देश में स्वराज्य है। – मोरारजी देसाई

हिंदी आम बोलचाल की ‘महाभाषा’ है। – जॉर्ज ग्रियर्सन

राष्ट्रभाषा के बिना राष्ट्र गूंगा है। – महात्मा गांधी

Famous Quotes on Hindi Diwas

प्रान्तीय ईर्ष्या–द्वेष को दूर करने में जितनी सहायता इस हिंदी प्रचार से मिलेगी, उतनी दूसरी किसी चीज़ से नहीं मिल सकती। – सुभाषचंद्र बोस

मैं दुनिया की सभी भाषाओं की इज्जत करता हूं पर मेरे देश में हिंदी की इज्जत न हो, यह मैं सह नहीं सकता। – आचार्य विनोबा भावे

हिंदी किसी एक प्रदेश की भाषा नहीं बल्कि देश में सर्वत्र बोली जाने वाली भाषा है। – विलियम केरी

मेरा आग्रहपूर्वक कथन है कि अपनी सारी मानसिक शक्ति हिन्दी भाषा के अध्ययन में लगावें. हम यही समझे कि हमारे प्रथम धर्मों में से एक धर्म यह भी है। – विनोबा भावे

हिंदी मेरी माँ ने मुझे सिखाया हैं, इसलिए इसके प्रति प्रेम और सम्मान मेरे हृदय में अन्य भाषाओँ की अपेक्षा अधिक हैं। – अज्ञात

जो सम्मान, संस्कृति और अपनापन हिंदी बोलने से आता हैं, वह अंग्रेजी में दूर-दूर तक दिखाई नहीं देता हैं। – अज्ञात

Poem on Hindi Diwas

हिंदी का प्रचार और विकास कोई रोक नहीं सकता। पंडित गोविंद बल्लभ पंत

हिन्दी पढ़ना और पढ़ाना हमारा कर्तव्य है. उसे हम सबको अपनाना है। – लालबहादुर शास्त्री

परदेशी वस्तु और परदेशी भाषा का भरोसा मत रखो अपने में अपनी भाषा में उन्नति करो। – भारतेंदु हरिश्चन्द्र

हिन्दी देश की एकता की कड़ी है। – डॉ. जाकिर हुसैन

हिन्दी के द्वारा सारे भारत को एक सूत्र में पिरोया जा सकता है। – महर्षि स्वामी दयानन्द

हिंदी है हम और हिंदी हमारी पहचान हैं। – अज्ञात

Hindi Bhasha Par Kavita

हिन्दी सरलता, बोधगम्यता और शैली की दृष्टि से विश्व की भाषाओं में महानतम स्थान रखती है। – डॉ. अमरनाथ झा

देश के सबसे बड़े भूभाग में बोली जानेवाली हिन्दी राष्ट्रभाषा – पद की अधिकारिणी है। – सुभाषचन्द्र बोस

हिन्दी की एक निश्चित धारा है, निश्चित संस्कार है। – जैनेन्द्रकुमार

Hindi Diwas Quotes in Hindi 2019

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here