Latest News in Hindi Indore

नागदा में निकली भोले की बरात : मृत्युंजय भक्त मंडल के भक्त बने बराती

nagda-barati-became-a-devotee-of-mrityunjay-bhakta-mandal

नागदा में निकली भोले की बरात : मृत्युंजय भक्त मंडल के भक्त बने बराती l Nagda: Bakati became a devotee of Mrityunjay Bhakta Mandal

महाशिवरात्रि पर्व शुक्रवार को उत्साह के साथ मना। बिरलाग्राम स्थित औघडऩाथ पंचमुखी बालाजी कुएं वाले बाबा धाम मंदिर से मृत्युंजय महाकाल भक्त मंडल की अगुवाई में शुक्रवार दोपहर 3 बजे शाही सवारी निकाली गई। जो शहर के प्रमुख मार्गों से होते चंबल तट स्थित मुक्तेश्वर महादेव मंदिर पहुंचे।

nagda-barati-became-a-devotee-of-mrityunjay-bhakta-mandal

सवारी में भूतों की टोली आकृर्षण का केंद्र रही। मंडल की अगुवाई में शनिवार को पांच दिवसीय मृत्युंजय महारूद्र यज्ञ का आयोजन बाबा धाम मंदिर पर आयोजित होगा। 26 फरवरी को पूर्णाहुति होगी।

जूना नागदा स्थित महादेव मंदिर से मनोहरसिंह देवड़ा व भवानीसिंह देवड़ा की अगुवाई में भगवान शंकर की बारात दोपहर 2 बजे निकाली गई। शाम 7 बजे महाआरती हुई।

मुक्तेश्वर महादेव मंदिर पर लगी कतार

प्राचीन मुक्तेश्वर महादेव मंदिर पर जलअपर्ण करने के लिए अलसुबह 4 बजे से ही श्रद्धालुओं की कतार लग गई। जो शाम 7 बजे तक रही। जल चढ़ाने के लिए शिवालयों में दिनभर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी।

nagda-barati-became-a-devotee-of-mrityunjay-bhakta-mandal

बद्रीविशाल मंदिर स्थित केदारेश्वर महादेव का आकृर्षक श्रृंगार किया गया। सुबह 9 बजे से पूजा अर्चना व रूद्राभिषेक हुआ। दोपहर 12 बजे महाआरती की गई। इस मौके पर समिति अध्यक्ष रणछोड़लाल पोरवाल, राधेश्याम कामरिया, नंदकिशोर पोरवाल, कैलाश सेठिया,

अशोक पोरवाल, युवा संगठन अध्यक्ष शिवा पोरवाल

जीवाजी नगर स्थित नर्मदेश्वर महादेव मंदिर पर अभिषेक व हवन किया गया। पंडित अजय पंड्या की अगुवाई में सुबह 11 बजे शिव रुद्राभिषेक व हवन कर महाआरती का आयोजन होगा।

इन मंदिरों पर भी उमड़े श्रद्धालु

शहर के बिरलाग्राम स्थित बड़े गणेश मंदिर, बस स्टैंड स्थित मनकामेश्वर, रेलवे कॉलोनी स्थिम मनकामेश्वर, बिरलाग्राम सी-ब्लॉक स्थित पिपलेश्वर महादेव, ग्राम भीकमपुर स्थित वृहद्ध महाकालेश्वर मंदिर पर श्रद्धालु जलअपर्ण करने पहुंचे। शिव मंदिरों के बाहर विभिन्न सामाजिक संगठन फरियाली खिचड़ी बांटी गई।

nagda-barati-became-a-devotee-of-mrityunjay-bhakta-mandal

 

Comment here