Latest News in Hindi Indore

शासकीय अस्पताल का 59 साल बाद मिला ICU

icu-found-after-59-years-of-government-hospital

शासकीय अस्पताल को 59 साल बाद मिला ICU | ICU found after 59 years of government hospital |  लैक्सेंस उद्योग ने सीएसआर फंड के तहत दिया 5 बेंड वाला ICU

नागदा। उज्जैन जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के सबसे बड़े शासकीय अस्पताल नागदा में अस्पताल की स्थापना के 59 साल बाद आधुनिक ICU की सौंगात मिली। LANXESS India द्वारा सीएसआर फंड के तहत शासकीय अस्पताल को यह सौगात मंगलवार शाम को एक समारोह के तहत दी गई। उद्योग द्वारा अस्पताल को ICU की सौगात उपलब्ध करा दी गई, लेकिन अब स्वास्थ्य विभाग के समक्ष संकट उत्पन्न हो गया।

चूंकि ICU का संचालन करने के लिए विभाग के पास वरिष्ट व अनुभवी चिकित्सक उपलब्ध नहीं है। हालांकि स्थानीय स्वास्थ्य विभाग ने जिला विभाग को पत्र लिखकर आईसीयू के संचालन के लिए वरिष्ट चिकित्सक की नियुक्ति कराने की मांग की है। लेकिन देखना यह है कि यह मांग कब तक पूरी होती है। उद्योग द्वारा 5 बेड का आईसीयू दिया गया।

जिसमें समस्त संसाधन उपलब्ध कराए गए। समारोह में अतिथि उद्योग के चेयरमैन नीलांजन बनर्जी व विधायक दिलीपसिंह गुर्जर ने एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर भी किए। जिसमें आसपस के उद्योग द्वारा पानी की टंकिया, चंबल नदी किनारे ग्रीन बेल्ट एवं बस्तियों में सोलर लाइट उपलब्ध कराने के समझौते पर हस्ताक्षर किए गए।

इस मौके पर मप्र शासन के पूर्व कामगार मंडल अध्यक्ष सुल्तानसिंह शेखावत, कांग्रेस के जिला कार्यकारी अध्यक्ष सुबोध स्वामी, बीएमओ डॉ कमल सोलंकी व उघोग के यूनिट हैड संजयसिंह भी मंचासीन थे। अतिथियों ने विचार रखे। अस्पताल के समारेाह के बाद बिरलाग्राम के गर्वनमेंट कॉलोनी उद्योग द्वारा बनाए गए नवीन सांस्कृतिक व मनोरंजन केंद्र का शुभारंभ किया गया।

#6 दशक बाद मिली सौगात

नागदा में शासकीय अस्पताल की स्थापना उद्योग कि स्थापना के बाद वर्ष 1960 में हुई थी। किसी अस्पताल में महज प्राथमिक उपचार होता था। लेकिन गत 6 वर्ष में अस्पताल में कई सौगात ब्लैड बैंक, पैथोलॉजी लैब, डिजिटल एक्सरे मशीन, एनआरसी रुम की सौगात मिली। इन में कई सुविधा लैक्सेंस उघोग द्वारा ही उपलब्ध कराई गई। अब उद्योग ने ICU की सौगात देकर अस्पताल का विस्तार कर दिया।

#2040 तक पर्यावरण संरक्षण का लक्ष्य

समारोह को संबोधित करते हुए उघोग के चेरयमैन बनर्जी ने कहा कि उद्योग वर्ष 2040 तक विश्व स्तर पर पर्यावरण संरक्षण का अपना लक्ष्य पूरा करेगी। LANXESS India  ने विश्व स्तर पर पूरा ध्यान पर्यावरण को संरक्षण देने के लिए लगा रखा है। आने वाले समय कंपनी ऐसे कई प्रोजेक्ट पर कार्य करेगी। विधायक ने यह मांग उठाई कि सीएसआर योजना उद्योगों के लिए एक कानूनी बंधन है। ऐसी स्थिति में स्थानीय स्तर ही विकास कार्यो के लिए राशि को खर्च किया जाए। कंपनियों अन्य प्रंातों में राशि को खर्च करती है। संचालन हेमंत सोनी ने किया।

icu-found-after-59-years-of-government-hospital
Neelanjan Banerjee, Vice Chairman and Managing Director, LANXESS India and Dilip Singh Gurjar, MLA from Khachrod – Nagda constituency and Chairman of Rogi Kalyan Samiti inaugurating the

Comment here