City Update

नागदा में खाद्य पर्ची पात्रता हितग्राही होगी जांच

food-slip-eligibility-will-be-beneficial-in-nagda

नागदा में खाद्य पर्ची पात्रता हितग्राही होगी जांच, तहसील में 31457 हितग्राही सूची में शामिल | Food slip eligibility will be beneficial in Nagda

नागदा। शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में शासन की योजना खाद्य पात्रता पर्ची का लाभ ले रहे हितग्राहियों की जांच कर अपात्र हितग्राहियों का नाम सूची से विच्छेद किया जाएगा। हितग्राही के सत्यापन का कार्य 21 नवंबर को प्रारंभ होगा। अभियान को लेकर खाद्य विभाग द्वारा सोमवार को ग्रेसिम टेंपल गेस्ट हाउस में प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया।

अभियान के तहत प्रशासन की टीम घर-घर जाकर पात्रता पर्ची का सत्यापन करेगी। यह कार्य लगभग दो सप्ताह तक चलेगा। सत्यापन करने वाली टीम एक पास एक फार्म होगा, जिसमें हितग्राही के परिवार की जानकारी होगी। अभियान नागदा व उन्हेल क्षेत्र में एक साथ चलेगा।

गौरतलब है कि मप्र शासन द्वारा शहर के हजारों परिवार द्वारा लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली का लाभ लिया जा रहा है। जिसके तहत 1 रु किलो में गेहूं व चावल राशन की दुकान से लिए जा रहे है। इस मौके पर सहायक आपूर्ति अधिकारी एसके वर्मा, महिला बाल विभाग के परियोजना अधिकारी मुकेश वर्मा, कनिष्ट खाद्य आपूर्ति अधिकारी नागेश दायमा, मुख्य नपा अधिकारी सतीश मटसेनिया, मास्टर ट्रेनर भूषण गुर्जर मौजूद थे।

#क्यो कि जा रही है जांच

प्रदेश में गत दो वर्ष नवीन खाद्य पर्ची का नहीं पन पा रही है। चूंकि प्रदेश में वर्तमान जनसंख्या के मान से अधिक हितग्राही हो चुके है। जिसको लेकर अब शासन द्वारा सत्यापन का कार्य किया जा रहा है।

इन हतिग्राहियों की जांच के लिए नागदा-उन्हेल क्षेत्र के लिए 166 टीम का गठन किया गया है। जिसमें ग्रामीण क्षेत्र के लिए 82 व शहरी क्षेत्र के लिए 84 टीम बनाई गई है। प्रत्येक टीम में दो सदस्य शामिल है। सत्यापन का कार्य नपा व महिला बाल विकास विभाग के कर्मचारियों द्वारा किया जाएगा।

कहां कितने हितग्राही
नागदा तहसील में
31457
नागदा शहर
14230
ग्रामीण क्षेत्र
17227

#किस तरह कि जाएगी

वर्तमान में बीपीएल कार्ड, अंत्योदय, केश शल्पी, मजदूर वर्ग आदि प्रकार के परिवार को खाद्य पर्ची का लाभ मिलता है। इन  लोगों को 1 रु किलो में गेहूं व चावल मिलते है। प्रत्येक सदस्य के मान से 4 किलो गेहूं व 1 किलो चावल मिलते है। साथ ही बिना गैंस कनेक्शन वाले को केरोसिन भी दिया जाता है।

टीम द्वारा यह जांच कि जाएगी कि जिन हितग्राही का नाम से पात्रता पर्ची है उसके परिवार में कोई शासकीय नौकरी में तो नहीं है या कोई आयकर दाता तो नहीं है। यदि यह दो श्रेणी में पाए गए तो उसकी पात्रता पर्ची बंद कि जाएगी।

इनका कहना
खाद्य पात्रता पर्ची के सत्यापन का कार्य 21 नवंबर से प्रारंभ होगा। नागदा तहसील के लिए 166 टीम का गठन किया गया है। जो घर-घर जाकर जांच करेगी ।
एसके वर्मा
सहायक आपूर्ती अधिकारी, उज्जैन

food-slip-eligibility-will-be-beneficial-in-nagda

Comment here