City Update

अफसरों की लापरवाही के चलते पिपलौदा के ग्रामीणों को नहीं मिल रही बिजली

due-to-negligence-of-officers-villagers-of-piploda-are-not-getting-electricity

अफसरों की लापरवाही के चलते पिपलौदा के ग्रामीणों को नहीं मिल रही बिजली | Due to negligence of officers, villagers of Piploda are not getting electricity | आक्रोशित ग्रामीणों ने डेढ़ घंटे तक नहीं खोलने दिया कार्यालय का ताला

नागदा। सिंचाई के लिए पर्याप्त मात्रा में विद्युत नहीं मिलने से ग्राम पिपलौदा के ग्रामीणों का आक्रोश फूट पड़ा। तीन दर्जन से अधिक ग्रामीणों के समूह ने शुक्रवार सुबह केंद्र कार्यालय के बाहर लगा विद्युत कर्मचारियों को करीब डेढ़ घंटे तक नहीं खोलने दिया।

करीब दो घंटे चले विरोध के बाद ग्रामीणों का आक्रोश शांत हो सका। ग्रामीणों का तर्क है, विविकं के सुपर वाइजर राकेश खाकरे द्वारा ग्रामीणों की शिकायत नहीं सुनी जा रही है।

मामले को लेकर ग्रामीणों ने डीई नेहा शुक्ला, सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की गई, लेकिन निराकरण नहीं हो पाया। ग्रामीणों का कहना है कि, ग्राम में सिंचाई के लिए महज 10 मिनट ही विद्युत प्रदाय किया जा रहा है। जिससे किसानों को रबी फसलों की सिंचाई करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

#क्या है परेशानी

दरअसल ग्राम पिपलौदा में समीपस्थ ग्राम बड़ा गांवा फीडर से विद्युत प्रदाय किया जाता है। गांव दो क्षेत्रों में विभाजित होने के कारण आधे गांव में विद्युत प्रदाय ठीक प्रकार से नहीं हो पा रहा था। मामले की शिकायत के बाद विद्युत विविकं द्वारा आधे गांव का विद्युत सप्लाय बदलते हुए अन्य फिडर से कर दिया गया।

जिसके बाद विभाजित गांव के आधे हिस्से में विद्युत प्रदाय पूरी तरह से बंद हो गया। जिससे किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त मात्रा में विद्युत मिलना बंद हो गई। ग्रामीणों द्वारा विद्युत कर्मचारियों से विद्युत प्रदाय प्रभावित होने का कारण पूछे जाने पर पता चला, कि फिडर को बदले जाने के दौरान विद्युत केवल को रेलवे लाइन के नीचे से बिछाया गया है।

due-to-negligence-of-officers-villagers-of-piploda-are-not-getting-electricity

लाइन के नीचे से बिछाए जाने के कारण विद्युत केबल क्षतिग्रस्त हो गई। जिससे आधे गांव का विद्युत प्रदाय पूरी तरह से ठप हो गया। विरोध जताने वाले ग्रामीणों में किसान आंनद सिंह राणावत, दिलीपसिंह डोडिया, सुरेश वर्मा, कन्हैयालाल जैन, प्रतापसिंह राणावत, देवेंद्र सिंह ठक्कर आदि शामिल है।

#विद्युत बिल लेकर जताया विरोध

विद्युत कार्यालय पर विरोध जताने पहुंचे ग्रामीणों ने हाथों मे भुगतान किए हुए विद्युत बिलों को लेकर विरोध जताया। इस दौरान ग्रामीणों ने केंद्र पर मौजूद कर्मचारियों के लापरवाही पूर्ण रवैए के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। करीब दो घंटे चले विरोध प्रदर्शन के बाद ग्रामीण केंद्र के बाहर हुए।

due-to-negligence-of-officers-villagers-of-piploda-are-not-getting-electricity

Comment here