बनबना तालब में मिल रहा केमिकल युक्त एसिड

0
15

प्रशासन की लापरवाही से सर्विस सेंटर संचालक ढोल रहे एसिड

नागदा. शहर में स्थित बनबना तालाब प्रशासन की लापरवाही से दूषित हो रहा है. समय रहते प्रशासन ने ध्यान नहीं दिया तो तालाब का पानी पीने योग्य नहीं रहेगा.

चूंकि तालाब के समीप बने सर्विस सेंटर से प्रतिदिन केमिकल युक्त एसिड तालाब में मिल रहा है. साथ ही तालाब के किनारे स्थित खेती को भी नष्ट कर रहा है. यह एसिड स्टेट हाइवे बायपास चौराहा पर सर्विस सेंटर से निकल कर तालाब में मिल रहा है. बुधवार को काफी मात्रा में एसिड तालाब के आसपास के खेतों में पहुंच गया.

Chemical rich acid being found in the Banabana pond
इस कदर तेज गति से छोड़ा जा रहा एसिड युक्त पानी।

जिस पर किसानों ने विरोध जताया. पूर्व में इस तरह का मामला हुआ था. उस समय प्रशासन ने कुछ सर्विस सेंटर पर कार्रवाई भी कि थी, लेकिन यह कार्रवाई निरतंर नहीं होने व स्थानिय प्रशासन की लापरवाही से एसिड माफियाओं के हौसले बुलंद है.

#क्या है मामला

औद्योगिक शहर नागदा में आधा दर्जन केमिकल के उद्योग है. इन उद्योगों से प्रतिदिन लगभग 50 से अधिक टेंकर केमिकल व एसिड लेकर देश के विभिन्न प्रांत में आते-जाते है. उद्योग में केमिकल व एसिड खाली करने के बाद टेंकर चालक इन वाहनों को बायपास पर स्थित सर्विस सेंटर पर धोते है.

जिससे पानी के माध्यम से यह एसिड व केमिकल जमीन में से होता हुआ बनबना तालाब में मिल रहा है. तालाब के किनारे पर आधा दर्जन सर्विस सेंटर है. आजाद ढाबा, रांगोली ढाबा व आजम सर्विस सेंटर पर प्रतिदिन लगभग 30 से 40 टेंकर धोए जाते है.

इन में से ही किसी सर्विस सेंटर से यह एसिड तालाब में मिल रहा है. हालांकि एक सर्विस सेंटर आजाद ढाबा तालाब के किनारे पर स्थित है. जबकि दो सर्विस सेंटर कुछ दूरी पर है. बायपास पर एक ट्रांसपोर्ट कंपनी का वर्कशॉप भी है.

यहां पर भी एसिड के टेंकर धोए जाते है. मामले में एसडीएम आरपी वर्मा का तर्क है कि, मोहरर्म की व्यवस्ता के कारण एसिड ढोलने वाले सर्विस सेंटर संचालकों पर गुरुवार बाद से कार्रवाई की जाएगी.

Chemical rich acid being found in the Banabana pond
नागदा। खेतों तक पहुंचा सर्विस सेंटर द्वारा छोड़ा गया पानी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here