Education

कोरोना से लडऩे का अनोखा तरीका बच्चों की संख्या के मान से जला रहे दीए, घरों के बाहर नीम की पत्तियां

Bihar a unique way to fight the corona is to burn with the number of children

गोपालगंज. बीमारियों को आस्था से जोड़कर देखने वाले भारतीय लोगों की बात ही निराली है. देश में कोरोना वायरस महामारी ने पैर प्रसार रखे हैं. पीएम नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को जनता कफ्र्यू का आवाहन कर देशवासियों से घर में रहने का अनुरोध किया है. सोशल कनेक्टीविटी को रोकने के 12500 ट्रेनों को 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है.11 दिनों में कोरोना के 250 मरीज और 6 लोगों की मौत हुई है.

सूर्य की उपासना करने वाले बिहारियों ने कोरोना से लडऩे का अचूक उपाय निकाला है. बिहार के लोग बच्चों की संख्या के मान से घरों में दीए जला रहे हैं. कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए घरों के बाहर नीम की पत्तियां लगा रहे है.

गोपालगंज जिले के पंडि़त दिनेश के अनुसार नीम संक्रमण रोधि पौधा है. नीम कीटों को समाप्त करते हैं. किसान अनाज को कीटों से बचाने के लिए नीम की पत्तियों का उपयोग करते हैं.

अग्नि को शास्त्रों में देवता की उपमा दी गई है. अग्नि किसी भी नकारात्मक ऊर्जा के प्रसार को बाधित करती है. कोरोना फिलहाल एक भय बना हुआ है. ऐसे में आस्था और आत्मविश्वास ही गंभीर रोगों से लडऩे में सहायक है.

गोपालगंज जिले के मथौली खास में रहने वाली कृषक उर्मिला देवी बताती है, कि घर के बाहर नीम की पत्तियों को लगाने और रात्रि के दौरान बच्चों की संख्या के मान से दीए जलाए जाने की युक्ति उनकी पुत्री पुष्पा ने बताया था. पुष्पा दिल्ली में निवासरत है. उन्होंने यह उपाय दिल्ली के सरिता विहार क्षेत्र में कई लोगों को करते हुए देखा था.

(नोट : हम लोगों की आस्था को ठेस नहीं पहुंचाते. आस्था और आत्मविश्वास का हम सम्मान करते हैं.)

Bihar a unique way to fight the corona is to burn with the number of children
संक्रमण से बचाव के लिए घरों के बाहर नीम की पत्तियां लगा रहे है.

 

Comment here