Latest News in Hindi Indore

आजादी के बाद इस गांव को मिलेगा शुद्ध पानी

after-independence-this-village-will-get-pure-water

आजादी के बाद अब मप्र के इस गांव को मिलेगा शुद्ध पानी  | After independence this village will get pure water

नागदा। उज्जैन जिले की नागदा तहसील में चंबल नदी समीप मौजूद गांव परमारखेड़ी के ग्रामीणों को अब शुद्ध पीने का पानी मिल सकेगा। दरअसल ग्रेसिम उद्योग प्रबंधन ने ग्रामीणों के लिए 20 लाख की लागत से आरओ वॉटर प्लांट लगाया है। प्लांट से प्रति घंटे 15 हजार लीटर पानी फिल्टर होगा।

प्लांट का शुभारंभ समारोह पूर्वक किया गया। अतिथि केंद्रीय मंत्री थावरचंद्र गेहलोत, ग्रेसिम इंडस्ट्रीज के मैनेजिंग डायरेक्टर दिलीप गौर, उद्योग के शैलेंद्र जैन, एचके अग्रवाल, यूनिट हेड के सुरेश, केमिकल डिवीजन के प्रेम तिवारी व वरिष्ट कांग्रेस नेता व विधायक प्रतिनिधि बाबूलाल गुर्जर द्वारा किया गया।

केंद्रीय मंत्री ने की घोषणा

समारोह के दौरान केंद्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत ने गांव के बालाजी मंदिर व राम मंदिर निर्माण के लिए 10 लाख रुपए देने की घोषणा की है। उपस्थितों को संबोधित करते हुए मंत्री गेहलोत ने कहा कि, प्लांट स्थापित किया जाना उद्योग की सराहनीय पहल है।

after-independence-this-village-will-get-pure-water

मंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि, कई घरों का चूल्हा उद्योग से चलता है। मालूम हो कि, गांव परमारखेड़ी के समीप से चंबल नदी गुजर रही है। बावजूद गांव में सालभर पेयजल संकट रहता है।

हालात यह है कि, गांव के सभी जलस्त्रोत उद्योगों से निकलने वाले रसायनयुक्त पानी से दूषित हो चुके है। पूरे गांब की आधे से अधिक आबादी दिव्यांगता की चपेट में आ चुकी है।

गांव परमार खेड़ी में फिलहाल ग्रेसिम उद्योग पेयजल प्रदाय किया जा रहा है, उद्योग गांव में प्रतिदिन 8 टेंकर पीने का पानी पहुंचाया जाता है। आरओ प्लांट लगने से ग्रामवासियों को 24 घंटे पीने का पानी मिल सकेगा। प्लांट उद्योग के कर्मचारियों की निगरानी में रहेगा।

after-independence-this-village-will-get-pure-water

Comment here